यही हाल रहा तो 2019 Election में भी हार होगी': BJP के बड़े नेता ने कहा, 'गोरखपुर, फूलपुर हारे हैं | bjp leader ramakant yadav attack on yogi aditynath says bjp will get defeat in 2019 election: Hindipost News




यही हाल रहा तो 2019 Election में भी हार होगी': BJP के बड़े नेता ने कहा, 'गोरखपुर, फूलपुर हारे हैं

Updated on 14 Mar 2018 by Hindipost


                    

UP में दो सीटों के उप चुनावों में मिली हार के बाद अब अपनों ने ही सूबे के CM योगी आदित्यनाथ पर हमला बोलना शुरू कर दिया है। पूर्व सांसद और BJP के सीनियर नेता रमाकांत यादव ने कहा है कि पिछड़ों और दलितों की उपेक्षा के चलते उपचुनाव में बीजेपी को हार मिली है। 
रमाकांत यादव यही पर नहीं रुके, बल्कि पार्टी नेतृत्व को चेतावनी भरे लहजे में कहा कि अगर पार्टी समय रहते सचेत नहीं होती है तो साल 2019 में भी बीजेपी को करारी हार मिल सकती है। 
रमाकांत यादव ने सीधे तौर पर मुख्यमंत्री योगी की कार्यशैली पर सवाल उठाया। उन्होंने कहा की, "जिस प्रकार से पूजा पाठ करने वाले को मुख्यमंत्री बना दिया गया उनके बस का सरकार चलाना नहीं है। पिछड़ों-दलितों को उनका हक़ मिलना चाहिए, सम्मान मिलना चाहिए जो योगी नहीं दे रहे है। केवल एक जाति तक सीमित हैं। जब सरकार बनी थी तब सोचा गया था कि सभी को मिलाकर चलेगी लेकिन ऐसा नहीं हुआ।"
रमाकांत के इस तेवर के बाद सवाल उठा है कि क्या अब वो बीजेपी से अलग राह अख्तियार करेंगे। इस सवाल पर उन्होंने  साफ किया है कि वो पार्टी में बने रहेंगे और पार्टी को आगाह करते रहेंगे। उन्होंने कहा, "पार्टी छोड़ने का कोई इरादा नहीं। मेरे लिए दल नहीं पिछड़ों दलितों का सम्मान जरूरी।"
आपको बता दें कि कल आए उपचुनाव नतीजों में बीजेपी को गोरखपुर और फूलपुर सीटों पर हार का सामना करना पड़ा है। ये दोनों सीटें मुख्य आदित्यनाथ और डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य की हैं। दोनों सीटों पर साल 2014 में बीजेपी की बड़ी जीत दर्ज की थी, लेकिन एक साल पहले राज्य में सत्ता में आई बीजेपी को ये सीट गंवानी पड़ी है। 




यही हाल रहा तो 2019 Election में भी हार होगी': BJP के बड़े नेता ने कहा, 'गोरखपुर, फूलपुर हारे हैं

Updated on 14 Mar 2018 by Hindipost



              

UP में दो सीटों के उप चुनावों में मिली हार के बाद अब अपनों ने ही सूबे के CM योगी आदित्यनाथ पर हमला बोलना शुरू कर दिया है। पूर्व सांसद और BJP के सीनियर नेता रमाकांत यादव ने कहा है कि पिछड़ों और दलितों की उपेक्षा के चलते उपचुनाव में बीजेपी को हार मिली है। 
रमाकांत यादव यही पर नहीं रुके, बल्कि पार्टी नेतृत्व को चेतावनी भरे लहजे में कहा कि अगर पार्टी समय रहते सचेत नहीं होती है तो साल 2019 में भी बीजेपी को करारी हार मिल सकती है। 
रमाकांत यादव ने सीधे तौर पर मुख्यमंत्री योगी की कार्यशैली पर सवाल उठाया। उन्होंने कहा की, "जिस प्रकार से पूजा पाठ करने वाले को मुख्यमंत्री बना दिया गया उनके बस का सरकार चलाना नहीं है। पिछड़ों-दलितों को उनका हक़ मिलना चाहिए, सम्मान मिलना चाहिए जो योगी नहीं दे रहे है। केवल एक जाति तक सीमित हैं। जब सरकार बनी थी तब सोचा गया था कि सभी को मिलाकर चलेगी लेकिन ऐसा नहीं हुआ।"
रमाकांत के इस तेवर के बाद सवाल उठा है कि क्या अब वो बीजेपी से अलग राह अख्तियार करेंगे। इस सवाल पर उन्होंने  साफ किया है कि वो पार्टी में बने रहेंगे और पार्टी को आगाह करते रहेंगे। उन्होंने कहा, "पार्टी छोड़ने का कोई इरादा नहीं। मेरे लिए दल नहीं पिछड़ों दलितों का सम्मान जरूरी।"
आपको बता दें कि कल आए उपचुनाव नतीजों में बीजेपी को गोरखपुर और फूलपुर सीटों पर हार का सामना करना पड़ा है। ये दोनों सीटें मुख्य आदित्यनाथ और डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य की हैं। दोनों सीटों पर साल 2014 में बीजेपी की बड़ी जीत दर्ज की थी, लेकिन एक साल पहले राज्य में सत्ता में आई बीजेपी को ये सीट गंवानी पड़ी है। 







यही हाल रहा तो 2019 Election में भी हार होगी': BJP…
Updated on 14 Mar 2018



30 हज़ार से ज़्यादा किसान नासिक से पैदल मुंबई पहुंचे,…
Updated on 11 Mar 2018



PM मोदी के फॉलोवर ट्विटर पर सब से ज़्यादा, जानिए भारत…
Updated on 07 Dec 2017



विराट कोहली से शादी की खबर पर अनुष्का शर्मा ने बताई…
Updated on 07 Dec 2017



राम मंदिर-बाबरी मस्जिद: जानिये छह दिसंबर 1992 को अयोध्या…
Updated on 04 Dec 2017




UC Browser रातो रात गायब हुआ गूगल प्ले स्टोर से, जानिये…
Updated on 16 Nov 2017



अपनी सैंट्रो कार से शाहरुख खान को एयरपोर्ट ड्रॉप करती…
Updated on 16 Nov 2017



राष्ट्रपति चुनाव: विपक्ष की एकता बिखर चुकी है, कांग्रेस…
Updated on 22 Jun 2017



राम मंदिर: अखाड़ा परिषद और शिया वक्फ बोर्ड में बनी…
Updated on 13 Nov 2017



प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सरकार के तीन साल पूरे होने…
Updated on 20 May 2017


यही हाल रहा तो 2019 Election में भी हार होगी': BJP के बड़े नेता ने कहा, 'गोरखपुर, फूलपुर हारे हैं

Updated on 14 Mar 2018 by Hindipost


              

UP में दो सीटों के उप चुनावों में मिली हार के बाद अब अपनों ने ही सूबे के CM योगी आदित्यनाथ पर हमला बोलना शुरू कर दिया है। पूर्व सांसद और BJP के सीनियर नेता रमाकांत यादव ने कहा है कि पिछड़ों और दलितों की उपेक्षा के चलते उपचुनाव में बीजेपी को हार मिली है। 
रमाकांत यादव यही पर नहीं रुके, बल्कि पार्टी नेतृत्व को चेतावनी भरे लहजे में कहा कि अगर पार्टी समय रहते सचेत नहीं होती है तो साल 2019 में भी बीजेपी को करारी हार मिल सकती है। 
रमाकांत यादव ने सीधे तौर पर मुख्यमंत्री योगी की कार्यशैली पर सवाल उठाया। उन्होंने कहा की, "जिस प्रकार से पूजा पाठ करने वाले को मुख्यमंत्री बना दिया गया उनके बस का सरकार चलाना नहीं है। पिछड़ों-दलितों को उनका हक़ मिलना चाहिए, सम्मान मिलना चाहिए जो योगी नहीं दे रहे है। केवल एक जाति तक सीमित हैं। जब सरकार बनी थी तब सोचा गया था कि सभी को मिलाकर चलेगी लेकिन ऐसा नहीं हुआ।"
रमाकांत के इस तेवर के बाद सवाल उठा है कि क्या अब वो बीजेपी से अलग राह अख्तियार करेंगे। इस सवाल पर उन्होंने  साफ किया है कि वो पार्टी में बने रहेंगे और पार्टी को आगाह करते रहेंगे। उन्होंने कहा, "पार्टी छोड़ने का कोई इरादा नहीं। मेरे लिए दल नहीं पिछड़ों दलितों का सम्मान जरूरी।"
आपको बता दें कि कल आए उपचुनाव नतीजों में बीजेपी को गोरखपुर और फूलपुर सीटों पर हार का सामना करना पड़ा है। ये दोनों सीटें मुख्य आदित्यनाथ और डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य की हैं। दोनों सीटों पर साल 2014 में बीजेपी की बड़ी जीत दर्ज की थी, लेकिन एक साल पहले राज्य में सत्ता में आई बीजेपी को ये सीट गंवानी पड़ी है।