पुलिस ने गूगल मैप्स के ज़रिये ढूंढा घूम हुई बच्ची का घर, देखिये कैसे | police find lost girl home with help of google map: Hindipost News




पुलिस ने गूगल मैप्स के ज़रिये ढूंढा घूम हुई बच्ची का घर, देखिये कैसे

Updated on 03 Dec 2017 by Hindipost


                    

राजधानी दिल्ली में एक ऐसा मामला सामने आया है जहा गुमशुदा बच्ची को पुलिस ने गूगल मैप्स की मदद से उसके घर पहुंचा दिया। सात साल की बच्ची अपने माता-पिता के साथ शादी में शामिल होने के लिए दिल्ली के मालवीय नगर आई थी। लेकिन बच्ची खेलते-खेलते घर से बाहर चली गई और गुम हो गई। 
टाइम्स ऑफ इंडिया के अनुसार, पुलिस ने गूगल मैप्स के जरिए बच्ची का गांव ढूंढ लिया और सकुशल उसे उसके माता-पिता के पास पहुंचा दिया।
पुलिस ने कैसे ढूंढा बच्ची का गांव,देखिये 
दरअसल ये बच्ची दिल्ली पुलिस के कॉन्स्टेबल विक्रम को रास्ते में मिली थी। जिसके बाद वह इसे पुलिस स्टेशन लेकर आ गए। इलाके के डीसीपी रोमिल बानिया ने बताया है कि बच्ची अपने गांव का पता नहीं बता पा रही थी। उसने इतना बताया कि वह अपने माता-पिता के साथ मालवीय नगर में शादी में आई हुई थी। इसके बाद बच्ची ने बताया कि वह करीब चार घंटों का सफर करके दिल्ली आई थी। 
पुलिस ने दूरी के हिसाब से लगाया शहरों का हिसाब
पुलिस ने दिल्ली से दूरी के हिसाब से शहरों का हिसाब लगाना शुरू किया और शहरों की पुलिस से इस बारे में जानकारी जुटानी शुरु कर दी। इतना ही नहीं पुलिस ने बच्ची की जानकारियों के मुताबिक सफर के बीच आने वाली जगहों के बारे में पता किया। इससे पुलिस को अंदाजा हो गया कि वह पश्चिमी उत्तर प्रदेश या उत्तराखंड से आई है। बाद में पुलिस को जानकारी मिली कि बच्ची मेरठ इलाके की है और उसके गांव के आस-पास तालाब है। 
ऐसे मिली पुलिस को सफलता
पुलिस ने गूगल मैप्स की मदद से ऐसे गांवों का पता लगाया जिनके आस-पास तालाब है। बाद में ऐसे गावों के सरपंचों से संपर्क किया गया। आखिर में पुलिस ने मेरठ से 44 किलोमीटर दूर बच्ची का गांव ढूंढ निकाला। इस गांव का नाम 'कोल' है। बाद में गांव के सरपंच की मदद से बच्ची को उसके माता-पिता को सौंप दिया गया। 




पुलिस ने गूगल मैप्स के ज़रिये ढूंढा घूम हुई बच्ची का घर, देखिये कैसे

Updated on 03 Dec 2017 by Hindipost



              

राजधानी दिल्ली में एक ऐसा मामला सामने आया है जहा गुमशुदा बच्ची को पुलिस ने गूगल मैप्स की मदद से उसके घर पहुंचा दिया। सात साल की बच्ची अपने माता-पिता के साथ शादी में शामिल होने के लिए दिल्ली के मालवीय नगर आई थी। लेकिन बच्ची खेलते-खेलते घर से बाहर चली गई और गुम हो गई। 
टाइम्स ऑफ इंडिया के अनुसार, पुलिस ने गूगल मैप्स के जरिए बच्ची का गांव ढूंढ लिया और सकुशल उसे उसके माता-पिता के पास पहुंचा दिया।
पुलिस ने कैसे ढूंढा बच्ची का गांव,देखिये 
दरअसल ये बच्ची दिल्ली पुलिस के कॉन्स्टेबल विक्रम को रास्ते में मिली थी। जिसके बाद वह इसे पुलिस स्टेशन लेकर आ गए। इलाके के डीसीपी रोमिल बानिया ने बताया है कि बच्ची अपने गांव का पता नहीं बता पा रही थी। उसने इतना बताया कि वह अपने माता-पिता के साथ मालवीय नगर में शादी में आई हुई थी। इसके बाद बच्ची ने बताया कि वह करीब चार घंटों का सफर करके दिल्ली आई थी। 
पुलिस ने दूरी के हिसाब से लगाया शहरों का हिसाब
पुलिस ने दिल्ली से दूरी के हिसाब से शहरों का हिसाब लगाना शुरू किया और शहरों की पुलिस से इस बारे में जानकारी जुटानी शुरु कर दी। इतना ही नहीं पुलिस ने बच्ची की जानकारियों के मुताबिक सफर के बीच आने वाली जगहों के बारे में पता किया। इससे पुलिस को अंदाजा हो गया कि वह पश्चिमी उत्तर प्रदेश या उत्तराखंड से आई है। बाद में पुलिस को जानकारी मिली कि बच्ची मेरठ इलाके की है और उसके गांव के आस-पास तालाब है। 
ऐसे मिली पुलिस को सफलता
पुलिस ने गूगल मैप्स की मदद से ऐसे गांवों का पता लगाया जिनके आस-पास तालाब है। बाद में ऐसे गावों के सरपंचों से संपर्क किया गया। आखिर में पुलिस ने मेरठ से 44 किलोमीटर दूर बच्ची का गांव ढूंढ निकाला। इस गांव का नाम 'कोल' है। बाद में गांव के सरपंच की मदद से बच्ची को उसके माता-पिता को सौंप दिया गया। 







यही हाल रहा तो 2019 Election में भी हार होगी': BJP…
Updated on 14 Mar 2018



30 हज़ार से ज़्यादा किसान नासिक से पैदल मुंबई पहुंचे,…
Updated on 11 Mar 2018



PM मोदी के फॉलोवर ट्विटर पर सब से ज़्यादा, जानिए भारत…
Updated on 07 Dec 2017



विराट कोहली से शादी की खबर पर अनुष्का शर्मा ने बताई…
Updated on 07 Dec 2017



राम मंदिर-बाबरी मस्जिद: जानिये छह दिसंबर 1992 को अयोध्या…
Updated on 04 Dec 2017




बच्चे को दूध पिला रही महिला को कार समेत टो किया, मुंबई…
Updated on 12 Nov 2017



आज नीलाम होंगे दाऊद इब्राहिम के घर, होटल, गेस्ट हाउस,…
Updated on 13 Nov 2017



सस्ती 'उड़ान' की आज शुरूआत करेंगे प्रधानमंत्री मोदीः…
Updated on 06 May 2017



स्विस पर्यटकों पर हमले के पांच आरोपी गिरफ्तार, सरकार…
Updated on 26 Oct 2017



ये हैं इंडिया के सबसे खूबसूरत गुरुद्वारे, क्या आपने…
Updated on 09 May 2017


पुलिस ने गूगल मैप्स के ज़रिये ढूंढा घूम हुई बच्ची का घर, देखिये कैसे

Updated on 03 Dec 2017 by Hindipost


              

राजधानी दिल्ली में एक ऐसा मामला सामने आया है जहा गुमशुदा बच्ची को पुलिस ने गूगल मैप्स की मदद से उसके घर पहुंचा दिया। सात साल की बच्ची अपने माता-पिता के साथ शादी में शामिल होने के लिए दिल्ली के मालवीय नगर आई थी। लेकिन बच्ची खेलते-खेलते घर से बाहर चली गई और गुम हो गई। 
टाइम्स ऑफ इंडिया के अनुसार, पुलिस ने गूगल मैप्स के जरिए बच्ची का गांव ढूंढ लिया और सकुशल उसे उसके माता-पिता के पास पहुंचा दिया।
पुलिस ने कैसे ढूंढा बच्ची का गांव,देखिये 
दरअसल ये बच्ची दिल्ली पुलिस के कॉन्स्टेबल विक्रम को रास्ते में मिली थी। जिसके बाद वह इसे पुलिस स्टेशन लेकर आ गए। इलाके के डीसीपी रोमिल बानिया ने बताया है कि बच्ची अपने गांव का पता नहीं बता पा रही थी। उसने इतना बताया कि वह अपने माता-पिता के साथ मालवीय नगर में शादी में आई हुई थी। इसके बाद बच्ची ने बताया कि वह करीब चार घंटों का सफर करके दिल्ली आई थी। 
पुलिस ने दूरी के हिसाब से लगाया शहरों का हिसाब
पुलिस ने दिल्ली से दूरी के हिसाब से शहरों का हिसाब लगाना शुरू किया और शहरों की पुलिस से इस बारे में जानकारी जुटानी शुरु कर दी। इतना ही नहीं पुलिस ने बच्ची की जानकारियों के मुताबिक सफर के बीच आने वाली जगहों के बारे में पता किया। इससे पुलिस को अंदाजा हो गया कि वह पश्चिमी उत्तर प्रदेश या उत्तराखंड से आई है। बाद में पुलिस को जानकारी मिली कि बच्ची मेरठ इलाके की है और उसके गांव के आस-पास तालाब है। 
ऐसे मिली पुलिस को सफलता
पुलिस ने गूगल मैप्स की मदद से ऐसे गांवों का पता लगाया जिनके आस-पास तालाब है। बाद में ऐसे गावों के सरपंचों से संपर्क किया गया। आखिर में पुलिस ने मेरठ से 44 किलोमीटर दूर बच्ची का गांव ढूंढ निकाला। इस गांव का नाम 'कोल' है। बाद में गांव के सरपंच की मदद से बच्ची को उसके माता-पिता को सौंप दिया गया।