नगर पालिका और पंचायतों में हुई अपनी हार की बात नहीं कर रही बीजेपी: अखिलेश | bjp is not discussing his defeat in municipality and panchayat election says akhilesh: Hindipost News




नगर पालिका और पंचायतों में हुई अपनी हार की बात नहीं कर रही बीजेपी: अखिलेश

Updated on 03 Dec 2017 by Hindipost


                    

समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने बीजेपी को झूठ परोसने वाली पार्टी करार देते हुए कहा है कि प्रदेश के नगरीय निकाय चुनाव में महापौर की सीटें जीतकर अपनी पीठ थपथपा रही बीजेपी नगर पालिका और नगर पंचायतों में अपनी हार की चर्चा नहीं कर रही हैं। 
पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश ने एटा के पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष जुगेन्द्र सिंह यादव की बेटी के विवाह कार्यक्रम में शिरकत से इतर संवाददाताओं से कहा कि बीजेपी निकाय चुनावों में इलेक्ट्रानिक वोटिंग मशीनों (ईवीएम) की बदौलत महापौर की 16 में से 14 सीटें जीतने का तो प्रचार कर रही है, मगर नगरपालिका तथा नगरपंचायत चुनावों में अपनी पराजय की चर्चा नहीं कर रही है। 

उन्होंने कहा कि भारत से भी अधिक विकसित देशों में भी जब मतपत्रों से मतदान होता है तो भारत में क्या ऐसी क्या समस्या है। चुनाव आयोग पहले यह तो बताए कि वह खराब ईवीएम को ठीक कैसे करता है? जब खराब मशीन ठीक की जा सकती है तो सही को खराब भी किया जा सकता है। 
बीजेपी को झूठ परोसने वाली पार्टी बताते हुए अखिलेश ने जनता को आह्वान किया कि वह इस पार्टी के झूठ से जनता बचे। नगर पालिका तथा नगर पंचायत चुनावों में पहले स्थान पर निर्दलीय, दूसरे पर बीजेपी और तीसरे पर सपा रही हैं। उन्होंने सवाल किया है कि कि बीजेपी बताये कि बीते आठ महीने में उसने कितना विकास किया जिस गौमाता के नाम पर यह पार्टी सत्ता में आयी थी, उसके वध के कितने बूचड़खाने बंद कराये। प्रदेश में कितने अपराध कम हुए और कितनी सड़कें गड्ढ़ामुक्त हुईं। 
अखिलेश ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर भी हमला किया और आरोप लगाया कि मोदी बात तो विकास की करते हैं पर काम जनता को बांटने का करते हैं। गुजरात चुनावों में जब मोदी विकास की चर्चा में पिछड़ने लगे तो धार्मिकता को आगे बढ़ा दिया। अपने कृष्ण प्रेम के बारे में पूछे जाने पर अखिलेश ने कहा कि जब बीजेपा के लोग राम की बात करते हैं तो उनसे कोई नहीं पूछता। राम हों या कृष्ण दोनों विष्णु के अवतार हैं। वे हमारे थे और रहेंगे लेकिन सपा बीजेपी की तरह इसका प्रचार नहीं करती। 




नगर पालिका और पंचायतों में हुई अपनी हार की बात नहीं कर रही बीजेपी: अखिलेश

Updated on 03 Dec 2017 by Hindipost



              

समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने बीजेपी को झूठ परोसने वाली पार्टी करार देते हुए कहा है कि प्रदेश के नगरीय निकाय चुनाव में महापौर की सीटें जीतकर अपनी पीठ थपथपा रही बीजेपी नगर पालिका और नगर पंचायतों में अपनी हार की चर्चा नहीं कर रही हैं। 
पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश ने एटा के पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष जुगेन्द्र सिंह यादव की बेटी के विवाह कार्यक्रम में शिरकत से इतर संवाददाताओं से कहा कि बीजेपी निकाय चुनावों में इलेक्ट्रानिक वोटिंग मशीनों (ईवीएम) की बदौलत महापौर की 16 में से 14 सीटें जीतने का तो प्रचार कर रही है, मगर नगरपालिका तथा नगरपंचायत चुनावों में अपनी पराजय की चर्चा नहीं कर रही है। 

उन्होंने कहा कि भारत से भी अधिक विकसित देशों में भी जब मतपत्रों से मतदान होता है तो भारत में क्या ऐसी क्या समस्या है। चुनाव आयोग पहले यह तो बताए कि वह खराब ईवीएम को ठीक कैसे करता है? जब खराब मशीन ठीक की जा सकती है तो सही को खराब भी किया जा सकता है। 
बीजेपी को झूठ परोसने वाली पार्टी बताते हुए अखिलेश ने जनता को आह्वान किया कि वह इस पार्टी के झूठ से जनता बचे। नगर पालिका तथा नगर पंचायत चुनावों में पहले स्थान पर निर्दलीय, दूसरे पर बीजेपी और तीसरे पर सपा रही हैं। उन्होंने सवाल किया है कि कि बीजेपी बताये कि बीते आठ महीने में उसने कितना विकास किया जिस गौमाता के नाम पर यह पार्टी सत्ता में आयी थी, उसके वध के कितने बूचड़खाने बंद कराये। प्रदेश में कितने अपराध कम हुए और कितनी सड़कें गड्ढ़ामुक्त हुईं। 
अखिलेश ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर भी हमला किया और आरोप लगाया कि मोदी बात तो विकास की करते हैं पर काम जनता को बांटने का करते हैं। गुजरात चुनावों में जब मोदी विकास की चर्चा में पिछड़ने लगे तो धार्मिकता को आगे बढ़ा दिया। अपने कृष्ण प्रेम के बारे में पूछे जाने पर अखिलेश ने कहा कि जब बीजेपा के लोग राम की बात करते हैं तो उनसे कोई नहीं पूछता। राम हों या कृष्ण दोनों विष्णु के अवतार हैं। वे हमारे थे और रहेंगे लेकिन सपा बीजेपी की तरह इसका प्रचार नहीं करती। 







यही हाल रहा तो 2019 Election में भी हार होगी': BJP…
Updated on 14 Mar 2018



30 हज़ार से ज़्यादा किसान नासिक से पैदल मुंबई पहुंचे,…
Updated on 11 Mar 2018



PM मोदी के फॉलोवर ट्विटर पर सब से ज़्यादा, जानिए भारत…
Updated on 07 Dec 2017



विराट कोहली से शादी की खबर पर अनुष्का शर्मा ने बताई…
Updated on 07 Dec 2017



राम मंदिर-बाबरी मस्जिद: जानिये छह दिसंबर 1992 को अयोध्या…
Updated on 04 Dec 2017




आम आदमी से दारू की कंपनी तक का सफर
Updated on 06 May 2017



गणेशशंकर विद्यार्थी  की जीवनी
Updated on 06 May 2017



स्विस पर्यटकों पर हमले के पांच आरोपी गिरफ्तार, सरकार…
Updated on 26 Oct 2017



मुस्लिमों की कांग्रेस पार्टी को धमकी, कहा- टिकट नहीं…
Updated on 15 Nov 2017



अंतरिष्क यात्री कल्पना चावला
Updated on 28 Apr 2017


नगर पालिका और पंचायतों में हुई अपनी हार की बात नहीं कर रही बीजेपी: अखिलेश

Updated on 03 Dec 2017 by Hindipost


              

समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने बीजेपी को झूठ परोसने वाली पार्टी करार देते हुए कहा है कि प्रदेश के नगरीय निकाय चुनाव में महापौर की सीटें जीतकर अपनी पीठ थपथपा रही बीजेपी नगर पालिका और नगर पंचायतों में अपनी हार की चर्चा नहीं कर रही हैं। 
पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश ने एटा के पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष जुगेन्द्र सिंह यादव की बेटी के विवाह कार्यक्रम में शिरकत से इतर संवाददाताओं से कहा कि बीजेपी निकाय चुनावों में इलेक्ट्रानिक वोटिंग मशीनों (ईवीएम) की बदौलत महापौर की 16 में से 14 सीटें जीतने का तो प्रचार कर रही है, मगर नगरपालिका तथा नगरपंचायत चुनावों में अपनी पराजय की चर्चा नहीं कर रही है। 

उन्होंने कहा कि भारत से भी अधिक विकसित देशों में भी जब मतपत्रों से मतदान होता है तो भारत में क्या ऐसी क्या समस्या है। चुनाव आयोग पहले यह तो बताए कि वह खराब ईवीएम को ठीक कैसे करता है? जब खराब मशीन ठीक की जा सकती है तो सही को खराब भी किया जा सकता है। 
बीजेपी को झूठ परोसने वाली पार्टी बताते हुए अखिलेश ने जनता को आह्वान किया कि वह इस पार्टी के झूठ से जनता बचे। नगर पालिका तथा नगर पंचायत चुनावों में पहले स्थान पर निर्दलीय, दूसरे पर बीजेपी और तीसरे पर सपा रही हैं। उन्होंने सवाल किया है कि कि बीजेपी बताये कि बीते आठ महीने में उसने कितना विकास किया जिस गौमाता के नाम पर यह पार्टी सत्ता में आयी थी, उसके वध के कितने बूचड़खाने बंद कराये। प्रदेश में कितने अपराध कम हुए और कितनी सड़कें गड्ढ़ामुक्त हुईं। 
अखिलेश ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर भी हमला किया और आरोप लगाया कि मोदी बात तो विकास की करते हैं पर काम जनता को बांटने का करते हैं। गुजरात चुनावों में जब मोदी विकास की चर्चा में पिछड़ने लगे तो धार्मिकता को आगे बढ़ा दिया। अपने कृष्ण प्रेम के बारे में पूछे जाने पर अखिलेश ने कहा कि जब बीजेपा के लोग राम की बात करते हैं तो उनसे कोई नहीं पूछता। राम हों या कृष्ण दोनों विष्णु के अवतार हैं। वे हमारे थे और रहेंगे लेकिन सपा बीजेपी की तरह इसका प्रचार नहीं करती।