अब AIIMS में इलाज के लिए ऑनलाइन अपॉइंटमेंट ले सकते हैं आप  | : Hindipost News




अब AIIMS में इलाज के लिए ऑनलाइन अपॉइंटमेंट ले सकते हैं आप 

Updated on 06 May 2017 by Hindipost


                    

ऑल इंडिया इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस (AIIMS) हॉस्पिटल में हर कोई अपना इलाज करवाना चाहता है। अब तक AIIMS में इलाज को लेकर यही कहा जाता था कि रेफरेंस होगा तो ही इलाज हो सकता है। लेकिन अब यहां रेफरेंस की जरूरत खत्म सी हो गई है। जी हां, अब कोई भी मरीज AIIMS में इलाज करवा सकता है। लेकिन उसके लिए कुछ कंडीशंस हैं।
जानिए, किन कंडीशंस पर AIIMS में इलाज हो सकता है :

सबसे पहले आपको ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन सिस्टम वेबसाइट पर जाना होगा। यहां आपको बुक अपॉइंटमेंट नाउ पर क्लिक करना है। इसके बाद आपके पास आधार कार्ड है तो अपना आधार नंबर भरिये वहा पे। इसके बाद आपके मोबाइल पर ओटीपी पासवर्ड आएगा। आपको ओटीपी डालना होगा।इसके बाद आपका इस वेबसाइट पर रजिस्ट्रेशन हो जाएगा। फर्स्ट स्टेप पूरा होने के बाद आपको स्टेट सलेक्ट करना है। जैसे आपको दिल्ली में दिखाना है तो दिल्ली का ऑप्शन सलेक्ट कीजिए। इसके बाद आपको हॉस्पिटल सलेक्ट करना है। जैसे आपको AIIMS में अपना इलाज करवाना है तो AIIMS सलेक्ट कीजिए। किस डिपार्टमेंट में किस बीमारी के लिए दिखाना है उसे भी सेलेक्ट कीजिए। इस ऑप्शान में अलग-अलग डिपार्टमेंट की विंडो खुलकर सामने आएगी।

आपको उसमें से जिस भी बीमारी के लिए दिखाना है उस पर क्लिक कीजिए। इनमें से कुछ बीमारियों के लिए रेफरेंस मांगा गया है। जैसे कार्डियो, हार्मोंस इंबैलेंस, गैस्ट्रिक और गैस्ट्रिक सर्जरी, ब्लड रिलेटिड डिजीज़, किडनी प्रॉब्लम्स, नवर्स सिस्टम प्रॉब्लम और सर्जरी, न्यू्क्लर मेडिसिन, बच्‍चों में हार्ट प्रॉब्लम्स, मसल्स और ज्वॉइंट डिस्ऑर्डर, स्लिप डिस्ऑर्डर, यूरोलॉजी की समस्या। ऑर्थेपैडिक के उन्हीं मरीजों को देखा जाएगा जिनका ऑपरेशन हो चुका है। इसके अलावा बाकी बीमारियों के लिए आप एम्स में दिखा सकते हैं। बीमारी सलेक्ट करने के बाद आपको डेट के लिए लिस्ट आएगी। जो भी डेट्स मौजूद होंगी उसकी लिस्ट आपके सामने आ जायगी। डेट सलेक्ट कीजिए। इसके बाद कन्फर्मेशन विंडो आएगी।

अगर आप अपॉइंटमेंट बुक करना चाहते हैं तो बुक अपॉइंटमेंट पर क्लिक कीजिए। आप चाहे तो अपना अपॉइंटमेंट इसी विंडो से रिशेड्यूल भी कर सकते हैं। अपॉइंटमेंट बुक होने के बाद आपके रजिस्‍टर्ड नंबर पर मैसेज आएगा और अपॉइंटमेंट बुक होने का कन्फर्मेशन भी। आप चाहे तो इसका प्रिंट आउट निकाल सकते हैं। ध्यान रहें, बुकिंग के बाद अगर आप अपॉइंटमेंट वाले दिन नहीं जाते तो आपको दोबारा अपॉइंटमेंट नहीं मिलेगा। आप एक दिन पहले तक अपना अपॉइंटमेंट कैंसल करवा सकते हैं।
अपॉइंटमेंट के दिन आपको हॉस्पिटल जाकर अपॉइंटमेंट काउंटर से अपना ओपीडी कार्ड बनवाना होगा।

वहां उस काउंटर पर आपको 10 रूपए फीस भी देनी होगा।अपॉइंटमेंट का जो टाइम दिया गया है उसी टाइम पर आप पहुंचें। अन्यथा आपका अपॉइंटमेंट कैंसल हो सकता है। आप बिना अपॉइंटमेंट के सीधे हॉस्पिटल जाकर भी अपना ओपीडी कार्ड बनवा सकते हैं। ओपीडी कार्ड सुबह 8.30 से 10.30 बजे के बीच बनता है। डॉक्टर्स  8.30 से 1 बजे तक मरीजों का चेकअप करते हैं। 




अब AIIMS में इलाज के लिए ऑनलाइन अपॉइंटमेंट ले सकते हैं आप 

Updated on 06 May 2017 by Hindipost



              

ऑल इंडिया इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस (AIIMS) हॉस्पिटल में हर कोई अपना इलाज करवाना चाहता है। अब तक AIIMS में इलाज को लेकर यही कहा जाता था कि रेफरेंस होगा तो ही इलाज हो सकता है। लेकिन अब यहां रेफरेंस की जरूरत खत्म सी हो गई है। जी हां, अब कोई भी मरीज AIIMS में इलाज करवा सकता है। लेकिन उसके लिए कुछ कंडीशंस हैं।
जानिए, किन कंडीशंस पर AIIMS में इलाज हो सकता है :

सबसे पहले आपको ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन सिस्टम वेबसाइट पर जाना होगा। यहां आपको बुक अपॉइंटमेंट नाउ पर क्लिक करना है। इसके बाद आपके पास आधार कार्ड है तो अपना आधार नंबर भरिये वहा पे। इसके बाद आपके मोबाइल पर ओटीपी पासवर्ड आएगा। आपको ओटीपी डालना होगा।इसके बाद आपका इस वेबसाइट पर रजिस्ट्रेशन हो जाएगा। फर्स्ट स्टेप पूरा होने के बाद आपको स्टेट सलेक्ट करना है। जैसे आपको दिल्ली में दिखाना है तो दिल्ली का ऑप्शन सलेक्ट कीजिए। इसके बाद आपको हॉस्पिटल सलेक्ट करना है। जैसे आपको AIIMS में अपना इलाज करवाना है तो AIIMS सलेक्ट कीजिए। किस डिपार्टमेंट में किस बीमारी के लिए दिखाना है उसे भी सेलेक्ट कीजिए। इस ऑप्शान में अलग-अलग डिपार्टमेंट की विंडो खुलकर सामने आएगी।

आपको उसमें से जिस भी बीमारी के लिए दिखाना है उस पर क्लिक कीजिए। इनमें से कुछ बीमारियों के लिए रेफरेंस मांगा गया है। जैसे कार्डियो, हार्मोंस इंबैलेंस, गैस्ट्रिक और गैस्ट्रिक सर्जरी, ब्लड रिलेटिड डिजीज़, किडनी प्रॉब्लम्स, नवर्स सिस्टम प्रॉब्लम और सर्जरी, न्यू्क्लर मेडिसिन, बच्‍चों में हार्ट प्रॉब्लम्स, मसल्स और ज्वॉइंट डिस्ऑर्डर, स्लिप डिस्ऑर्डर, यूरोलॉजी की समस्या। ऑर्थेपैडिक के उन्हीं मरीजों को देखा जाएगा जिनका ऑपरेशन हो चुका है। इसके अलावा बाकी बीमारियों के लिए आप एम्स में दिखा सकते हैं। बीमारी सलेक्ट करने के बाद आपको डेट के लिए लिस्ट आएगी। जो भी डेट्स मौजूद होंगी उसकी लिस्ट आपके सामने आ जायगी। डेट सलेक्ट कीजिए। इसके बाद कन्फर्मेशन विंडो आएगी।

अगर आप अपॉइंटमेंट बुक करना चाहते हैं तो बुक अपॉइंटमेंट पर क्लिक कीजिए। आप चाहे तो अपना अपॉइंटमेंट इसी विंडो से रिशेड्यूल भी कर सकते हैं। अपॉइंटमेंट बुक होने के बाद आपके रजिस्‍टर्ड नंबर पर मैसेज आएगा और अपॉइंटमेंट बुक होने का कन्फर्मेशन भी। आप चाहे तो इसका प्रिंट आउट निकाल सकते हैं। ध्यान रहें, बुकिंग के बाद अगर आप अपॉइंटमेंट वाले दिन नहीं जाते तो आपको दोबारा अपॉइंटमेंट नहीं मिलेगा। आप एक दिन पहले तक अपना अपॉइंटमेंट कैंसल करवा सकते हैं।
अपॉइंटमेंट के दिन आपको हॉस्पिटल जाकर अपॉइंटमेंट काउंटर से अपना ओपीडी कार्ड बनवाना होगा।

वहां उस काउंटर पर आपको 10 रूपए फीस भी देनी होगा।अपॉइंटमेंट का जो टाइम दिया गया है उसी टाइम पर आप पहुंचें। अन्यथा आपका अपॉइंटमेंट कैंसल हो सकता है। आप बिना अपॉइंटमेंट के सीधे हॉस्पिटल जाकर भी अपना ओपीडी कार्ड बनवा सकते हैं। ओपीडी कार्ड सुबह 8.30 से 10.30 बजे के बीच बनता है। डॉक्टर्स  8.30 से 1 बजे तक मरीजों का चेकअप करते हैं। 







यही हाल रहा तो 2019 Election में भी हार होगी': BJP…
Updated on 14 Mar 2018



30 हज़ार से ज़्यादा किसान नासिक से पैदल मुंबई पहुंचे,…
Updated on 11 Mar 2018



PM मोदी के फॉलोवर ट्विटर पर सब से ज़्यादा, जानिए भारत…
Updated on 07 Dec 2017



विराट कोहली से शादी की खबर पर अनुष्का शर्मा ने बताई…
Updated on 07 Dec 2017



राम मंदिर-बाबरी मस्जिद: जानिये छह दिसंबर 1992 को अयोध्या…
Updated on 04 Dec 2017




काटो का ताज लेके बने एक बड़े उद्योगपति चंद्र देवेश्वर…
Updated on 09 May 2017



वाल्ट डिज्नी की सफलता से लेकर असफलता तक की कहानी।
Updated on 06 May 2017



ओमप्रकाश वाल्मीकि का जीवन
Updated on 05 May 2017



ओबेरॉय होटल को एक नयी उचाई पर ले जाने वाले देश के…
Updated on 12 May 2017



घर बैठे ऐसे आसानी से ऑनलाइन बनवाए ड्राइविंग लाइसेंस
Updated on 06 May 2017


अब AIIMS में इलाज के लिए ऑनलाइन अपॉइंटमेंट ले सकते हैं आप 

Updated on 06 May 2017 by Hindipost


              

ऑल इंडिया इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस (AIIMS) हॉस्पिटल में हर कोई अपना इलाज करवाना चाहता है। अब तक AIIMS में इलाज को लेकर यही कहा जाता था कि रेफरेंस होगा तो ही इलाज हो सकता है। लेकिन अब यहां रेफरेंस की जरूरत खत्म सी हो गई है। जी हां, अब कोई भी मरीज AIIMS में इलाज करवा सकता है। लेकिन उसके लिए कुछ कंडीशंस हैं।
जानिए, किन कंडीशंस पर AIIMS में इलाज हो सकता है :

सबसे पहले आपको ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन सिस्टम वेबसाइट पर जाना होगा। यहां आपको बुक अपॉइंटमेंट नाउ पर क्लिक करना है। इसके बाद आपके पास आधार कार्ड है तो अपना आधार नंबर भरिये वहा पे। इसके बाद आपके मोबाइल पर ओटीपी पासवर्ड आएगा। आपको ओटीपी डालना होगा।इसके बाद आपका इस वेबसाइट पर रजिस्ट्रेशन हो जाएगा। फर्स्ट स्टेप पूरा होने के बाद आपको स्टेट सलेक्ट करना है। जैसे आपको दिल्ली में दिखाना है तो दिल्ली का ऑप्शन सलेक्ट कीजिए। इसके बाद आपको हॉस्पिटल सलेक्ट करना है। जैसे आपको AIIMS में अपना इलाज करवाना है तो AIIMS सलेक्ट कीजिए। किस डिपार्टमेंट में किस बीमारी के लिए दिखाना है उसे भी सेलेक्ट कीजिए। इस ऑप्शान में अलग-अलग डिपार्टमेंट की विंडो खुलकर सामने आएगी।

आपको उसमें से जिस भी बीमारी के लिए दिखाना है उस पर क्लिक कीजिए। इनमें से कुछ बीमारियों के लिए रेफरेंस मांगा गया है। जैसे कार्डियो, हार्मोंस इंबैलेंस, गैस्ट्रिक और गैस्ट्रिक सर्जरी, ब्लड रिलेटिड डिजीज़, किडनी प्रॉब्लम्स, नवर्स सिस्टम प्रॉब्लम और सर्जरी, न्यू्क्लर मेडिसिन, बच्‍चों में हार्ट प्रॉब्लम्स, मसल्स और ज्वॉइंट डिस्ऑर्डर, स्लिप डिस्ऑर्डर, यूरोलॉजी की समस्या। ऑर्थेपैडिक के उन्हीं मरीजों को देखा जाएगा जिनका ऑपरेशन हो चुका है। इसके अलावा बाकी बीमारियों के लिए आप एम्स में दिखा सकते हैं। बीमारी सलेक्ट करने के बाद आपको डेट के लिए लिस्ट आएगी। जो भी डेट्स मौजूद होंगी उसकी लिस्ट आपके सामने आ जायगी। डेट सलेक्ट कीजिए। इसके बाद कन्फर्मेशन विंडो आएगी।

अगर आप अपॉइंटमेंट बुक करना चाहते हैं तो बुक अपॉइंटमेंट पर क्लिक कीजिए। आप चाहे तो अपना अपॉइंटमेंट इसी विंडो से रिशेड्यूल भी कर सकते हैं। अपॉइंटमेंट बुक होने के बाद आपके रजिस्‍टर्ड नंबर पर मैसेज आएगा और अपॉइंटमेंट बुक होने का कन्फर्मेशन भी। आप चाहे तो इसका प्रिंट आउट निकाल सकते हैं। ध्यान रहें, बुकिंग के बाद अगर आप अपॉइंटमेंट वाले दिन नहीं जाते तो आपको दोबारा अपॉइंटमेंट नहीं मिलेगा। आप एक दिन पहले तक अपना अपॉइंटमेंट कैंसल करवा सकते हैं।
अपॉइंटमेंट के दिन आपको हॉस्पिटल जाकर अपॉइंटमेंट काउंटर से अपना ओपीडी कार्ड बनवाना होगा।

वहां उस काउंटर पर आपको 10 रूपए फीस भी देनी होगा।अपॉइंटमेंट का जो टाइम दिया गया है उसी टाइम पर आप पहुंचें। अन्यथा आपका अपॉइंटमेंट कैंसल हो सकता है। आप बिना अपॉइंटमेंट के सीधे हॉस्पिटल जाकर भी अपना ओपीडी कार्ड बनवा सकते हैं। ओपीडी कार्ड सुबह 8.30 से 10.30 बजे के बीच बनता है। डॉक्टर्स  8.30 से 1 बजे तक मरीजों का चेकअप करते हैं।