iPhone, माइक्रोमैक्स और लेनोवो के स्मार्टफोन अब होंगे और मंहगे | iphone micromax and lenovo phone will get more costly in india: Hindipost News




iPhone, माइक्रोमैक्स और लेनोवो के स्मार्टफोन अब होंगे और मंहगे

Updated on 16 Dec 2017 by Hindipost


                    

मोबाइल हैंडसेट खासकर iPhone के ज़्यादातर म़ॉडल महंगे होते हैं, क्योंकि सरकार ने मोबाइल हैंडसेट के साथ टेलीविजन पर आय़ात शुल्क बढ़ा दिया है। इसी तरह की बढ़ोतरी microwave oven, water heater वगैरह पर बढ़ायी गयी है। 
वित्त मंत्रालय ने अधिसूचना जारी कर आयात शुल्क में बढ़ोतरी की है।  इसके तहत मोबाइल हैंड सेट पर आयात शुल्क 10 के जगह 15 फीसदी होगी। ये नयी दरें लागू हो गयी हैं।

मोबाइल हैंडसेट बाजार पर नजर रखने वाली संस्था काउंटरप्वाइंट के अनुसार, 2017 के दौरान करीब 28 करोड़ मोबाइल हैंडसेट बिकने का अनुमान है। इसमे से 80 फीसदी Make in India होंगे जबकि बाकी आयातित यानि बाहर से बनकर आएंगे। आयात करने वालों में Apple, Micromax, Lenovo मुख्य रुप से शामिल हैं। 
काउंटरप्वाइंट के मुताबिक, Apple देश में बिकने वाले अपने मॉडल का करीब 88 फीसदी आयात करता है। ऐसे में अब या तो वो दाम बढ़ाएगी या फिर यहीं पर फोन असेंबल करना शुरु सकती है। रिसर्च एजेंसी का ये भी कहना है कि Micromax और Lenovo ने एसेंबली लाइन विकसित तो कर दिया है, लेकिन वहां काम शुरु नहीं हो पाया है। अब उम्मीद है कि ताजा फैसले के बाद दोनों ही कंपनियां यहां उत्पादन शुरु करेंगी। 
मोबाइल हैंडसेट बाजार में Samsung का दबदबा है और वो अपने सारे हैंडसेट यहीं तैयार करती है। देश में इस समय हर साल करीब 50 करोड़ मोबाइल हैडसेट तैयार हो रहा है जबकि तीन साल पहले ये संख्या 25 करोड़ के करीब थी। 




iPhone, माइक्रोमैक्स और लेनोवो के स्मार्टफोन अब होंगे और मंहगे

Updated on 16 Dec 2017 by Hindipost



              

मोबाइल हैंडसेट खासकर iPhone के ज़्यादातर म़ॉडल महंगे होते हैं, क्योंकि सरकार ने मोबाइल हैंडसेट के साथ टेलीविजन पर आय़ात शुल्क बढ़ा दिया है। इसी तरह की बढ़ोतरी microwave oven, water heater वगैरह पर बढ़ायी गयी है। 
वित्त मंत्रालय ने अधिसूचना जारी कर आयात शुल्क में बढ़ोतरी की है।  इसके तहत मोबाइल हैंड सेट पर आयात शुल्क 10 के जगह 15 फीसदी होगी। ये नयी दरें लागू हो गयी हैं।

मोबाइल हैंडसेट बाजार पर नजर रखने वाली संस्था काउंटरप्वाइंट के अनुसार, 2017 के दौरान करीब 28 करोड़ मोबाइल हैंडसेट बिकने का अनुमान है। इसमे से 80 फीसदी Make in India होंगे जबकि बाकी आयातित यानि बाहर से बनकर आएंगे। आयात करने वालों में Apple, Micromax, Lenovo मुख्य रुप से शामिल हैं। 
काउंटरप्वाइंट के मुताबिक, Apple देश में बिकने वाले अपने मॉडल का करीब 88 फीसदी आयात करता है। ऐसे में अब या तो वो दाम बढ़ाएगी या फिर यहीं पर फोन असेंबल करना शुरु सकती है। रिसर्च एजेंसी का ये भी कहना है कि Micromax और Lenovo ने एसेंबली लाइन विकसित तो कर दिया है, लेकिन वहां काम शुरु नहीं हो पाया है। अब उम्मीद है कि ताजा फैसले के बाद दोनों ही कंपनियां यहां उत्पादन शुरु करेंगी। 
मोबाइल हैंडसेट बाजार में Samsung का दबदबा है और वो अपने सारे हैंडसेट यहीं तैयार करती है। देश में इस समय हर साल करीब 50 करोड़ मोबाइल हैडसेट तैयार हो रहा है जबकि तीन साल पहले ये संख्या 25 करोड़ के करीब थी। 







यही हाल रहा तो 2019 Election में भी हार होगी': BJP…
Updated on 14 Mar 2018



30 हज़ार से ज़्यादा किसान नासिक से पैदल मुंबई पहुंचे,…
Updated on 11 Mar 2018



PM मोदी के फॉलोवर ट्विटर पर सब से ज़्यादा, जानिए भारत…
Updated on 07 Dec 2017



विराट कोहली से शादी की खबर पर अनुष्का शर्मा ने बताई…
Updated on 07 Dec 2017



राम मंदिर-बाबरी मस्जिद: जानिये छह दिसंबर 1992 को अयोध्या…
Updated on 04 Dec 2017




थॉमस एडिसन जिन्होंने बल्ब का अविष्कार किया जिसके ज़रिये…
Updated on 14 May 2017



गूगल आपको देख रहा है वो आपको बिना बताये लोकेशन ट्रैक…
Updated on 23 Nov 2017



दिल्ली में जहरीले स्मॉग के फैलते शाओमी ने एयर प्योरिफायर…
Updated on 08 Nov 2017



WhatsApp से पैसे ट्रांसफर कर सकेंगे अब आप: रिपोर्ट
Updated on 03 Nov 2017



आधुनिक जीवन में कंप्यूटर के बारे कुछ ऐसे तथ्य जो शायद…
Updated on 05 May 2017


iPhone, माइक्रोमैक्स और लेनोवो के स्मार्टफोन अब होंगे और मंहगे

Updated on 16 Dec 2017 by Hindipost


              

मोबाइल हैंडसेट खासकर iPhone के ज़्यादातर म़ॉडल महंगे होते हैं, क्योंकि सरकार ने मोबाइल हैंडसेट के साथ टेलीविजन पर आय़ात शुल्क बढ़ा दिया है। इसी तरह की बढ़ोतरी microwave oven, water heater वगैरह पर बढ़ायी गयी है। 
वित्त मंत्रालय ने अधिसूचना जारी कर आयात शुल्क में बढ़ोतरी की है।  इसके तहत मोबाइल हैंड सेट पर आयात शुल्क 10 के जगह 15 फीसदी होगी। ये नयी दरें लागू हो गयी हैं।

मोबाइल हैंडसेट बाजार पर नजर रखने वाली संस्था काउंटरप्वाइंट के अनुसार, 2017 के दौरान करीब 28 करोड़ मोबाइल हैंडसेट बिकने का अनुमान है। इसमे से 80 फीसदी Make in India होंगे जबकि बाकी आयातित यानि बाहर से बनकर आएंगे। आयात करने वालों में Apple, Micromax, Lenovo मुख्य रुप से शामिल हैं। 
काउंटरप्वाइंट के मुताबिक, Apple देश में बिकने वाले अपने मॉडल का करीब 88 फीसदी आयात करता है। ऐसे में अब या तो वो दाम बढ़ाएगी या फिर यहीं पर फोन असेंबल करना शुरु सकती है। रिसर्च एजेंसी का ये भी कहना है कि Micromax और Lenovo ने एसेंबली लाइन विकसित तो कर दिया है, लेकिन वहां काम शुरु नहीं हो पाया है। अब उम्मीद है कि ताजा फैसले के बाद दोनों ही कंपनियां यहां उत्पादन शुरु करेंगी। 
मोबाइल हैंडसेट बाजार में Samsung का दबदबा है और वो अपने सारे हैंडसेट यहीं तैयार करती है। देश में इस समय हर साल करीब 50 करोड़ मोबाइल हैडसेट तैयार हो रहा है जबकि तीन साल पहले ये संख्या 25 करोड़ के करीब थी।