ट्विटर का हथौड़ा चला इस बड़े अकाउंट पर, अब ट्वीट चुराने वालों की खैर नहीं | twitter suspended many account for stealing tweets of others: Hindipost News




ट्विटर का हथौड़ा चला इस बड़े अकाउंट पर, अब ट्वीट चुराने वालों की खैर नहीं

Updated on 13 Mar 2018 by Hindipost


                    

Twitter कंपनी ने 'ट्वीटडेकर्स' के खिलाफ अपनी कार्रवाई जारी रखते हुए कई मशहूर ट्विटर हैंडल को Suspend कर दिया है। इन खातों को ट्वीट चुराने और ट्वीट को Viral बनाने के लिए बड़े पैमाने पर रीट्वीट करने के लिए सस्पेंड किया गया है। बजफीड के अनुसार, इन खातों में डोरी, गर्लपोस्ट, सोडैमट्र, गर्लकोड, कॉमनव्हाइटगर्ल, टीनेजरनोट्स, फिनाह, होलीफैग और मेमेप्रोवाइडर शामिल हैं जिनपर कार्रवाई करते हुए अकाउंट सस्पेंड किया गया हैं।

इनमें से कई खाते बहुत मशहूर लोगों के हैं जिनके लाखों की तादाद में Fans हैं। बिना क्रेडिट दिए हुए लोगों के ट्वीट चुराने के अलावा इसमें से कुछ खातों को 'ट्वीटडेकर्स' के नाम से जाना जाता है। ट्वीटडेकिंग ट्विटर की स्पैम पॉलिसी का घोर उल्लंघन है, जो यूजर्स को बेचने, खरीदने या अकाउंट की बातचीत को आर्टिफिशियली बढ़ा चढ़ा कर बताने की इजाजत नहीं देती है। 
ट्विटर के नियमों के अनुसार, इन नीति का उल्लंघन स्थायी निलंबन का आधार है। 
पिछले सप्ताह, मैसाचुसेट्स इंस्टीट्यूट ऑफ technology (एमआईटी) के तीन स्कॉलरों द्वारा किए गए अध्ययन में पाया गया था कि ट्विटर पर राजनीति की सच्ची खबरों के बजाए झूठी खबरें बड़ी तेजी, गहराई और बड़े पैमाने पर फैल रही हैं। 




ट्विटर का हथौड़ा चला इस बड़े अकाउंट पर, अब ट्वीट चुराने वालों की खैर नहीं

Updated on 13 Mar 2018 by Hindipost



              

Twitter कंपनी ने 'ट्वीटडेकर्स' के खिलाफ अपनी कार्रवाई जारी रखते हुए कई मशहूर ट्विटर हैंडल को Suspend कर दिया है। इन खातों को ट्वीट चुराने और ट्वीट को Viral बनाने के लिए बड़े पैमाने पर रीट्वीट करने के लिए सस्पेंड किया गया है। बजफीड के अनुसार, इन खातों में डोरी, गर्लपोस्ट, सोडैमट्र, गर्लकोड, कॉमनव्हाइटगर्ल, टीनेजरनोट्स, फिनाह, होलीफैग और मेमेप्रोवाइडर शामिल हैं जिनपर कार्रवाई करते हुए अकाउंट सस्पेंड किया गया हैं।

इनमें से कई खाते बहुत मशहूर लोगों के हैं जिनके लाखों की तादाद में Fans हैं। बिना क्रेडिट दिए हुए लोगों के ट्वीट चुराने के अलावा इसमें से कुछ खातों को 'ट्वीटडेकर्स' के नाम से जाना जाता है। ट्वीटडेकिंग ट्विटर की स्पैम पॉलिसी का घोर उल्लंघन है, जो यूजर्स को बेचने, खरीदने या अकाउंट की बातचीत को आर्टिफिशियली बढ़ा चढ़ा कर बताने की इजाजत नहीं देती है। 
ट्विटर के नियमों के अनुसार, इन नीति का उल्लंघन स्थायी निलंबन का आधार है। 
पिछले सप्ताह, मैसाचुसेट्स इंस्टीट्यूट ऑफ technology (एमआईटी) के तीन स्कॉलरों द्वारा किए गए अध्ययन में पाया गया था कि ट्विटर पर राजनीति की सच्ची खबरों के बजाए झूठी खबरें बड़ी तेजी, गहराई और बड़े पैमाने पर फैल रही हैं। 







यही हाल रहा तो 2019 Election में भी हार होगी': BJP…
Updated on 14 Mar 2018



30 हज़ार से ज़्यादा किसान नासिक से पैदल मुंबई पहुंचे,…
Updated on 11 Mar 2018



PM मोदी के फॉलोवर ट्विटर पर सब से ज़्यादा, जानिए भारत…
Updated on 07 Dec 2017



विराट कोहली से शादी की खबर पर अनुष्का शर्मा ने बताई…
Updated on 07 Dec 2017



राम मंदिर-बाबरी मस्जिद: जानिये छह दिसंबर 1992 को अयोध्या…
Updated on 04 Dec 2017




iPhone 7 Red को टक्कर देने लॉन्च हुआ OnePlus 5T का…
Updated on 29 Nov 2017



Nokia 6 पे मिल रहा है 2500 रुपये का डिस्काउंट, ऐमज़ॉन…
Updated on 14 Nov 2017



6 फरवरी तक मोबाइल नंबर कराना होगा आधार से लिंक, जानिये…
Updated on 03 Nov 2017



Air India का ट्विटर अकाउंट हुआ Hack, हैकर ने लिखा-…
Updated on 14 Mar 2018



गूगल क्रोम एक्सटेंशन
Updated on 01 May 2017


ट्विटर का हथौड़ा चला इस बड़े अकाउंट पर, अब ट्वीट चुराने वालों की खैर नहीं

Updated on 13 Mar 2018 by Hindipost


              

Twitter कंपनी ने 'ट्वीटडेकर्स' के खिलाफ अपनी कार्रवाई जारी रखते हुए कई मशहूर ट्विटर हैंडल को Suspend कर दिया है। इन खातों को ट्वीट चुराने और ट्वीट को Viral बनाने के लिए बड़े पैमाने पर रीट्वीट करने के लिए सस्पेंड किया गया है। बजफीड के अनुसार, इन खातों में डोरी, गर्लपोस्ट, सोडैमट्र, गर्लकोड, कॉमनव्हाइटगर्ल, टीनेजरनोट्स, फिनाह, होलीफैग और मेमेप्रोवाइडर शामिल हैं जिनपर कार्रवाई करते हुए अकाउंट सस्पेंड किया गया हैं।

इनमें से कई खाते बहुत मशहूर लोगों के हैं जिनके लाखों की तादाद में Fans हैं। बिना क्रेडिट दिए हुए लोगों के ट्वीट चुराने के अलावा इसमें से कुछ खातों को 'ट्वीटडेकर्स' के नाम से जाना जाता है। ट्वीटडेकिंग ट्विटर की स्पैम पॉलिसी का घोर उल्लंघन है, जो यूजर्स को बेचने, खरीदने या अकाउंट की बातचीत को आर्टिफिशियली बढ़ा चढ़ा कर बताने की इजाजत नहीं देती है। 
ट्विटर के नियमों के अनुसार, इन नीति का उल्लंघन स्थायी निलंबन का आधार है। 
पिछले सप्ताह, मैसाचुसेट्स इंस्टीट्यूट ऑफ technology (एमआईटी) के तीन स्कॉलरों द्वारा किए गए अध्ययन में पाया गया था कि ट्विटर पर राजनीति की सच्ची खबरों के बजाए झूठी खबरें बड़ी तेजी, गहराई और बड़े पैमाने पर फैल रही हैं।