उत्तर कोरिया ने फिर से किया बैलिस्टिक मिसाइल टेस्ट, ट्रंप ने कहा देख लेंगे | north korea again launched new high altitude missile trumph says will see: Hindipost News




उत्तर कोरिया ने फिर से किया बैलिस्टिक मिसाइल टेस्ट, ट्रंप ने कहा देख लेंगे

Updated on 28 Nov 2017 by Hindipost


                    

अमेरिका की लगातार दी गई चेतावनी के बावजूद उत्तर कोरिया ने मंगलवार को एक और मिसाइल का परीक्षण कर दिया। जापान सागर में दागी गई इस मिसाइल का धमाका दूर तक महसूस किया गया है। ये परीक्षण नॉर्थ कोरिया की ओर से अमेरिका को सीधी चेतावनी मानी जा रही है। 
ट्रंप ने नॉर्थ कोरिया को 'देख लेने' की धमकी दी है 

उत्तर कोरिया के मिसाइल परीक्षण पर अमेरिका के राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप की प्रतिक्रिया आई है, ट्रंप ने कहा है कि वो उत्तर कोरिया को देख लेंगे। नॉर्थ कोरिया के मिसाइल टेस्ट पर ट्रंप ने कहा की, ''आप लोगों ने सुना होगा उत्तर कोरिया ने मिसाइल लॉन्च की है। मैं सिर्फ इतना कहूंगा कि मैं नॉर्थ कोरिया को देख लूंगा। उत्तर कोरिया के मिसाइल टेस्ट के बाद हमने लंबी चर्चा की है, हम इससे निपट लेंगे।''
सरकार और सेना को फंडिंग जरूरी:  डोनाल्ड ट्रंप

एक अन्य ट्वीट में ट्रंप ने कहा, ''उत्तर कोरिया के मिसाइल परीक्षण के बाद सरकार और सेना को फंडिंग सबसे ज्यादा जरूरी है। डेमोक्रेट्स अब अवैध घुसपैठियों के लिए सेना की फंडिंग को प्रभावित ना करें। मैंने अवैध घुसपैठ का मुद्दा उठाया और बड़ी जीत हासिल की।''
6 मिनट के बाद द. कोरिया ने भी किया टेस्ट
उत्तर कोरिया की ओर से मिसाइल परीक्षण के छह मिनट बाद दक्षिण कोरिया ने भी समंदर में मिसाइल दागे और मारक क्षमता का परीक्षण किया। उतर कोरिया ने एक हजार किलोमीटर तक सतह से सतह तक मार करने वाली तीन मिसाइलों का परीक्षण किया है। 
द. कोरिया ने जतायी थी आशंका

दो दिन पहले ही जापान ने रेडियो संकेतों से उत्तर कोरिया के मिसाइल परीक्षण के अंदेशा जताया था, जिसे सनकी तानाशाह ने सही साबित कर दिया। दक्षिण कोरिया के आर्मी चीफ के खुलासे के बाद अमेरिका ने किम जोंग को इस करतूत पर चेतावनी दी है। अमेरिका ने अपने बयान में किंग जोंग को सबक सिखाने के लिए दुनिया के देशों से एकजुट होने की अपील की है। 
उधर, दक्षिण कोरिया में भारत के राजदूत विक्रम दुरईस्वामी ने भी इस मिसाइल परीक्षण को दुनिया की शांति के लिए खतरा बताया है। उत्तर कोरिया की बैलिस्टिक मिसाइल की मारक क्षमता का अब तक पता नहीं लग सका है। लेकिन इसे किम जोंग के टारगेट अमेरिका के प्लान को ही खतरनाक कदम माना जा रहा है। 




उत्तर कोरिया ने फिर से किया बैलिस्टिक मिसाइल टेस्ट, ट्रंप ने कहा देख लेंगे

Updated on 28 Nov 2017 by Hindipost



              

अमेरिका की लगातार दी गई चेतावनी के बावजूद उत्तर कोरिया ने मंगलवार को एक और मिसाइल का परीक्षण कर दिया। जापान सागर में दागी गई इस मिसाइल का धमाका दूर तक महसूस किया गया है। ये परीक्षण नॉर्थ कोरिया की ओर से अमेरिका को सीधी चेतावनी मानी जा रही है। 
ट्रंप ने नॉर्थ कोरिया को 'देख लेने' की धमकी दी है 

उत्तर कोरिया के मिसाइल परीक्षण पर अमेरिका के राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप की प्रतिक्रिया आई है, ट्रंप ने कहा है कि वो उत्तर कोरिया को देख लेंगे। नॉर्थ कोरिया के मिसाइल टेस्ट पर ट्रंप ने कहा की, ''आप लोगों ने सुना होगा उत्तर कोरिया ने मिसाइल लॉन्च की है। मैं सिर्फ इतना कहूंगा कि मैं नॉर्थ कोरिया को देख लूंगा। उत्तर कोरिया के मिसाइल टेस्ट के बाद हमने लंबी चर्चा की है, हम इससे निपट लेंगे।''
सरकार और सेना को फंडिंग जरूरी:  डोनाल्ड ट्रंप

एक अन्य ट्वीट में ट्रंप ने कहा, ''उत्तर कोरिया के मिसाइल परीक्षण के बाद सरकार और सेना को फंडिंग सबसे ज्यादा जरूरी है। डेमोक्रेट्स अब अवैध घुसपैठियों के लिए सेना की फंडिंग को प्रभावित ना करें। मैंने अवैध घुसपैठ का मुद्दा उठाया और बड़ी जीत हासिल की।''
6 मिनट के बाद द. कोरिया ने भी किया टेस्ट
उत्तर कोरिया की ओर से मिसाइल परीक्षण के छह मिनट बाद दक्षिण कोरिया ने भी समंदर में मिसाइल दागे और मारक क्षमता का परीक्षण किया। उतर कोरिया ने एक हजार किलोमीटर तक सतह से सतह तक मार करने वाली तीन मिसाइलों का परीक्षण किया है। 
द. कोरिया ने जतायी थी आशंका

दो दिन पहले ही जापान ने रेडियो संकेतों से उत्तर कोरिया के मिसाइल परीक्षण के अंदेशा जताया था, जिसे सनकी तानाशाह ने सही साबित कर दिया। दक्षिण कोरिया के आर्मी चीफ के खुलासे के बाद अमेरिका ने किम जोंग को इस करतूत पर चेतावनी दी है। अमेरिका ने अपने बयान में किंग जोंग को सबक सिखाने के लिए दुनिया के देशों से एकजुट होने की अपील की है। 
उधर, दक्षिण कोरिया में भारत के राजदूत विक्रम दुरईस्वामी ने भी इस मिसाइल परीक्षण को दुनिया की शांति के लिए खतरा बताया है। उत्तर कोरिया की बैलिस्टिक मिसाइल की मारक क्षमता का अब तक पता नहीं लग सका है। लेकिन इसे किम जोंग के टारगेट अमेरिका के प्लान को ही खतरनाक कदम माना जा रहा है। 







यही हाल रहा तो 2019 Election में भी हार होगी': BJP…
Updated on 14 Mar 2018



30 हज़ार से ज़्यादा किसान नासिक से पैदल मुंबई पहुंचे,…
Updated on 11 Mar 2018



PM मोदी के फॉलोवर ट्विटर पर सब से ज़्यादा, जानिए भारत…
Updated on 07 Dec 2017



विराट कोहली से शादी की खबर पर अनुष्का शर्मा ने बताई…
Updated on 07 Dec 2017



राम मंदिर-बाबरी मस्जिद: जानिये छह दिसंबर 1992 को अयोध्या…
Updated on 04 Dec 2017




'जेम्स बांड' के सितारे रोजर मूर का निधन हुआ, कैंसर…
Updated on 23 May 2017



दिल के हाथों मजबूर हो गयी जापान की राजकुमारी, एक आम…
Updated on 18 May 2017



पूरा अमेरिका उत्तर कोरिया के ICBM मिसाइल की चपेट में…
Updated on 29 Nov 2017



युद्ध के लिए तैयार रहें, जीत हासिल करें: चीनी राष्ट्रपति…
Updated on 05 Nov 2017



ईरान-इराक की सीमा पर आया भीषण भूकंप, अब तक 207 की…
Updated on 13 Nov 2017


उत्तर कोरिया ने फिर से किया बैलिस्टिक मिसाइल टेस्ट, ट्रंप ने कहा देख लेंगे

Updated on 28 Nov 2017 by Hindipost


              

अमेरिका की लगातार दी गई चेतावनी के बावजूद उत्तर कोरिया ने मंगलवार को एक और मिसाइल का परीक्षण कर दिया। जापान सागर में दागी गई इस मिसाइल का धमाका दूर तक महसूस किया गया है। ये परीक्षण नॉर्थ कोरिया की ओर से अमेरिका को सीधी चेतावनी मानी जा रही है। 
ट्रंप ने नॉर्थ कोरिया को 'देख लेने' की धमकी दी है 

उत्तर कोरिया के मिसाइल परीक्षण पर अमेरिका के राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप की प्रतिक्रिया आई है, ट्रंप ने कहा है कि वो उत्तर कोरिया को देख लेंगे। नॉर्थ कोरिया के मिसाइल टेस्ट पर ट्रंप ने कहा की, ''आप लोगों ने सुना होगा उत्तर कोरिया ने मिसाइल लॉन्च की है। मैं सिर्फ इतना कहूंगा कि मैं नॉर्थ कोरिया को देख लूंगा। उत्तर कोरिया के मिसाइल टेस्ट के बाद हमने लंबी चर्चा की है, हम इससे निपट लेंगे।''
सरकार और सेना को फंडिंग जरूरी:  डोनाल्ड ट्रंप

एक अन्य ट्वीट में ट्रंप ने कहा, ''उत्तर कोरिया के मिसाइल परीक्षण के बाद सरकार और सेना को फंडिंग सबसे ज्यादा जरूरी है। डेमोक्रेट्स अब अवैध घुसपैठियों के लिए सेना की फंडिंग को प्रभावित ना करें। मैंने अवैध घुसपैठ का मुद्दा उठाया और बड़ी जीत हासिल की।''
6 मिनट के बाद द. कोरिया ने भी किया टेस्ट
उत्तर कोरिया की ओर से मिसाइल परीक्षण के छह मिनट बाद दक्षिण कोरिया ने भी समंदर में मिसाइल दागे और मारक क्षमता का परीक्षण किया। उतर कोरिया ने एक हजार किलोमीटर तक सतह से सतह तक मार करने वाली तीन मिसाइलों का परीक्षण किया है। 
द. कोरिया ने जतायी थी आशंका

दो दिन पहले ही जापान ने रेडियो संकेतों से उत्तर कोरिया के मिसाइल परीक्षण के अंदेशा जताया था, जिसे सनकी तानाशाह ने सही साबित कर दिया। दक्षिण कोरिया के आर्मी चीफ के खुलासे के बाद अमेरिका ने किम जोंग को इस करतूत पर चेतावनी दी है। अमेरिका ने अपने बयान में किंग जोंग को सबक सिखाने के लिए दुनिया के देशों से एकजुट होने की अपील की है। 
उधर, दक्षिण कोरिया में भारत के राजदूत विक्रम दुरईस्वामी ने भी इस मिसाइल परीक्षण को दुनिया की शांति के लिए खतरा बताया है। उत्तर कोरिया की बैलिस्टिक मिसाइल की मारक क्षमता का अब तक पता नहीं लग सका है। लेकिन इसे किम जोंग के टारगेट अमेरिका के प्लान को ही खतरनाक कदम माना जा रहा है।