हाफिज सईद का समर्थक हु मै, कहा- लश्कर-ए-तैयबा सबसे बड़ी ताकत है: परवेज मुशर्रफ | parvez musharraf said he is greater supporter of lashkar e taiyaba haafiz saeed: Hindipost News




हाफिज सईद का समर्थक हु मै, कहा- लश्कर-ए-तैयबा सबसे बड़ी ताकत है: परवेज मुशर्रफ

Updated on 29 Nov 2017 by Hindipost


                    

आतंकी हाफिद सईद ने रिहा होते ही भारत के खिलाफ जहर उगला है, वहीं अब पाकिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति परवेज मुशर्रफ उसका समर्थन करते नज़र आ रहे है। परवेज मुशर्रफ ने खुद को हाफिद सईद का सबसे बड़ा समर्थक बताया है। इतना ही नहीं मुशर्रफ ने खुद को लश्कर-ए-तैयबा का भी समर्थक बताया है और कहा कि वह कश्मीर में भारतीय सेना के दमन में आतंकवादी समूह की भूमिका का समर्थन करता है। 

स्व-निर्वासन में दुबई में रह रहे 74 साल के मुशर्रफ का कहना है कि मुंबई हमले का मास्टरमाइंड कश्मीर में संलिप्त है और वह इस संलिप्तता का समर्थन करते हैं। हाल ही में 23 राजनीतिक दलों के महागठबंधन की घोषणा करने वाले परवेज मुशर्रफ हमेशा से जम्मू-कश्मीर में कार्रवाई करने और भारतीय सेना को दबाने के पक्ष में हैं। 
मुशर्रफ ने एआरवाई न्यूज से कहा की, ‘‘लश्कर-ए-तैयबा सबसे बड़ी ताकत हैं। भारत ने अमेरिका के साथ साझेदारी करने के बाद उन्हें आतंकवादी घोषित करवा दिया है। हां वह (लश्कर-ए-तैयबा) कश्मीर में संलिप्त है लेकिन कश्मीर मुद्दा हमारे और भारत के बीच है।’’
खुद को लश्कर-ए-तैयबा और सईद का सबसे बड़ा समर्थक बताते हुए मुशर्रफ ने कहा कि वह जानते हैं कि आतंकवादी समूह और जमात-उद-दावा भी उन्हें पसंद करता है। पाकिस्तान में जमात-उद-दावा का प्रमुख हाफ़िज़ सईद है। लश्कर-ए-तैयबा पाकिस्तान में प्रतिबंधित है और उसपर प्रतिबंध लगाने का फैसला मुशर्रफ सरकार ने ही लिया था।

इस संबंध में सवाल करने पर मुशर्रफ ने कहा कि उन्होंने अलग परिस्थितियों में समूह पर प्रतिबंध लगाया था। हालांकि उन्होंने हालात के संबंध में कुछ नहीं कहा। सईद के नजरबंदी से रिहाई के कुछ ही दिन बाद मुशर्रफ ने बुधवार को यह टिप्पणी की है। सईद जनवरी से ही अपने ही घर में नजरबंद था। 




हाफिज सईद का समर्थक हु मै, कहा- लश्कर-ए-तैयबा सबसे बड़ी ताकत है: परवेज मुशर्रफ

Updated on 29 Nov 2017 by Hindipost



              

आतंकी हाफिद सईद ने रिहा होते ही भारत के खिलाफ जहर उगला है, वहीं अब पाकिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति परवेज मुशर्रफ उसका समर्थन करते नज़र आ रहे है। परवेज मुशर्रफ ने खुद को हाफिद सईद का सबसे बड़ा समर्थक बताया है। इतना ही नहीं मुशर्रफ ने खुद को लश्कर-ए-तैयबा का भी समर्थक बताया है और कहा कि वह कश्मीर में भारतीय सेना के दमन में आतंकवादी समूह की भूमिका का समर्थन करता है। 

स्व-निर्वासन में दुबई में रह रहे 74 साल के मुशर्रफ का कहना है कि मुंबई हमले का मास्टरमाइंड कश्मीर में संलिप्त है और वह इस संलिप्तता का समर्थन करते हैं। हाल ही में 23 राजनीतिक दलों के महागठबंधन की घोषणा करने वाले परवेज मुशर्रफ हमेशा से जम्मू-कश्मीर में कार्रवाई करने और भारतीय सेना को दबाने के पक्ष में हैं। 
मुशर्रफ ने एआरवाई न्यूज से कहा की, ‘‘लश्कर-ए-तैयबा सबसे बड़ी ताकत हैं। भारत ने अमेरिका के साथ साझेदारी करने के बाद उन्हें आतंकवादी घोषित करवा दिया है। हां वह (लश्कर-ए-तैयबा) कश्मीर में संलिप्त है लेकिन कश्मीर मुद्दा हमारे और भारत के बीच है।’’
खुद को लश्कर-ए-तैयबा और सईद का सबसे बड़ा समर्थक बताते हुए मुशर्रफ ने कहा कि वह जानते हैं कि आतंकवादी समूह और जमात-उद-दावा भी उन्हें पसंद करता है। पाकिस्तान में जमात-उद-दावा का प्रमुख हाफ़िज़ सईद है। लश्कर-ए-तैयबा पाकिस्तान में प्रतिबंधित है और उसपर प्रतिबंध लगाने का फैसला मुशर्रफ सरकार ने ही लिया था।

इस संबंध में सवाल करने पर मुशर्रफ ने कहा कि उन्होंने अलग परिस्थितियों में समूह पर प्रतिबंध लगाया था। हालांकि उन्होंने हालात के संबंध में कुछ नहीं कहा। सईद के नजरबंदी से रिहाई के कुछ ही दिन बाद मुशर्रफ ने बुधवार को यह टिप्पणी की है। सईद जनवरी से ही अपने ही घर में नजरबंद था। 







यही हाल रहा तो 2019 Election में भी हार होगी': BJP…
Updated on 14 Mar 2018



30 हज़ार से ज़्यादा किसान नासिक से पैदल मुंबई पहुंचे,…
Updated on 11 Mar 2018



PM मोदी के फॉलोवर ट्विटर पर सब से ज़्यादा, जानिए भारत…
Updated on 07 Dec 2017



विराट कोहली से शादी की खबर पर अनुष्का शर्मा ने बताई…
Updated on 07 Dec 2017



राम मंदिर-बाबरी मस्जिद: जानिये छह दिसंबर 1992 को अयोध्या…
Updated on 04 Dec 2017




दक्षिण कोरिया की ऐतिहासिक जानकारी और वहा की प्राचीन…
Updated on 06 May 2017



स्पेन से अलग होकर बना नया देश कैटेलोनिया, लेकिन स्पेन…
Updated on 28 Oct 2017



फेसबुक पर भड़काऊ पोस्ट लिखने पर अल्पसंख्यक हिंदू शख्स…
Updated on 15 Nov 2017



उत्तर कोरिया ने आपने नागरिकों को दी इंटरनेट चलाने…
Updated on 13 Nov 2017



दुनिया की 5 सबसे डरावनी जगहें, जहां आप कभी नहीं जाना…
Updated on 06 May 2017


हाफिज सईद का समर्थक हु मै, कहा- लश्कर-ए-तैयबा सबसे बड़ी ताकत है: परवेज मुशर्रफ

Updated on 29 Nov 2017 by Hindipost


              

आतंकी हाफिद सईद ने रिहा होते ही भारत के खिलाफ जहर उगला है, वहीं अब पाकिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति परवेज मुशर्रफ उसका समर्थन करते नज़र आ रहे है। परवेज मुशर्रफ ने खुद को हाफिद सईद का सबसे बड़ा समर्थक बताया है। इतना ही नहीं मुशर्रफ ने खुद को लश्कर-ए-तैयबा का भी समर्थक बताया है और कहा कि वह कश्मीर में भारतीय सेना के दमन में आतंकवादी समूह की भूमिका का समर्थन करता है। 

स्व-निर्वासन में दुबई में रह रहे 74 साल के मुशर्रफ का कहना है कि मुंबई हमले का मास्टरमाइंड कश्मीर में संलिप्त है और वह इस संलिप्तता का समर्थन करते हैं। हाल ही में 23 राजनीतिक दलों के महागठबंधन की घोषणा करने वाले परवेज मुशर्रफ हमेशा से जम्मू-कश्मीर में कार्रवाई करने और भारतीय सेना को दबाने के पक्ष में हैं। 
मुशर्रफ ने एआरवाई न्यूज से कहा की, ‘‘लश्कर-ए-तैयबा सबसे बड़ी ताकत हैं। भारत ने अमेरिका के साथ साझेदारी करने के बाद उन्हें आतंकवादी घोषित करवा दिया है। हां वह (लश्कर-ए-तैयबा) कश्मीर में संलिप्त है लेकिन कश्मीर मुद्दा हमारे और भारत के बीच है।’’
खुद को लश्कर-ए-तैयबा और सईद का सबसे बड़ा समर्थक बताते हुए मुशर्रफ ने कहा कि वह जानते हैं कि आतंकवादी समूह और जमात-उद-दावा भी उन्हें पसंद करता है। पाकिस्तान में जमात-उद-दावा का प्रमुख हाफ़िज़ सईद है। लश्कर-ए-तैयबा पाकिस्तान में प्रतिबंधित है और उसपर प्रतिबंध लगाने का फैसला मुशर्रफ सरकार ने ही लिया था।

इस संबंध में सवाल करने पर मुशर्रफ ने कहा कि उन्होंने अलग परिस्थितियों में समूह पर प्रतिबंध लगाया था। हालांकि उन्होंने हालात के संबंध में कुछ नहीं कहा। सईद के नजरबंदी से रिहाई के कुछ ही दिन बाद मुशर्रफ ने बुधवार को यह टिप्पणी की है। सईद जनवरी से ही अपने ही घर में नजरबंद था।